Home / Hindi Status / Islamic Status in Hindi

Islamic Status in Hindi

Islamic Status in Hindi for Whatsapp, Islamic Whatsapp Status in Hindi, Islamic Status for Whatsapp in Hindi, Whatsapp Islamic Status for Facebook in Hindi.

1. “माँ के कदमो के निचे जन्नत है।”

2. “ज्यादातर चुप्पी और एक अच्छा स्वभाव, इनसे बेहतर कोई भी दो चीजें नहीं हैं.”

3. “नसीब वाले ही पाते हे मौत अल्लाह के घर में, वरना हादसे तो लाख होते हे इस दुनिया में।”

4. “बा वज़ू सोया करो…।”

5. “अल्लाह उस पर इनायत करता है, जो खुद अपनी मेहनत से अपनी जीविका उपार्जित करता है, न की भीख मांगकर।”

6. “जो अल्लाह की रह पर खर्च करने में कंजूसी करता है, वह असल में अपने ही साथ कंजूसी करता है।”

7. “फुर्सत नहीं है इन्सान को घर से मस्जिद तक जाने की..! ख्वाहिश रखता है कब्रिस्तान से सीधे जन्नत जाने की।”

8. “बुराई को अच्छाई से जीतना अच्छी बात है, बुराई को बुराई से काबू में लाना बुरी बात है.”

9. “अगर तुम किसी से मुहब्बत करते हो तो, उसका हाथ थामो और कहो, आओ नमाज़ पढ़ते है।”

10. “जी अपने आप को जानता है, वह अल्लाह को जानता है।”

11. “Din ki roshni main “RIZQ” talash karo, aur RAAT ki tariki main “USAY” talash karo jo tumhain “RIZQ” deta hai.”

12. “Sadqa gunahon ko is tarah khatam, Kar daita hai jis tarah, Pani aag ko buja daiti hai”

13. “Wo gunah jis ka tumhein ranj ho, Allah k nazdeeq us nayki se behtar hai, Jis se tum main ghuroor paida ho jaye”

14. “ab tum namaz k liye khare hote ho, to sir se asman tak rahmat-e-ilahi, ghata ban k cha jati hai, farishtay charon taraf jama ho jate hain.
Ek farishta pukarta hai k, Ay namazi agar tu dekh lay k, Tere samnay kon hai or tu kis se bat ker raha hai to, Allah ki qasam tu qayamat tuk salam na phere.”

15. “Agar tum kisi ko chota dekh rahe ho, To tum use door se dekh rahe ho, Ya phir gharoor se dekh rahe ho”

16. “Jism ki tandrusti “NAMAZ” main hai, Dil ki taqat TILAWAT-E-QURAN main hai, Dimagh ki quwwat ZIKER-E-ELAHI main hai, Rooh ki rahat DUROOD SHAREEF main hai,”

17. “Aye Allah – Mere WO tamam gunah maaf farma Jo meri duaon ki Qabuliat main Rukawat bante hain.
Ameen”

18. “Jab tum namaz k liye khare hote ho to sir se asman tak rahmat-e-ilahi ghata ban k cha jati hai, farishtay charon taraf jama ho jate hain. Ek farishta pukarta hai k ay namazi agar tu dekh lay k tere samnay kon hai or tu kis se bat ker raha hai to Allah ki qasam tu qayamat tuk salam na phere.”

19. “Momin ka her wo din Eid ka din hay Jis din wo Koi gunah na kare.”

20. “IKHTIYAR, TAAQAT aur DOULAT aisi cheezain hain jin k milnay say log badaltay nahin BAYNAQAB hotay hain”

21. “वह हममें से नहीँ है, जो बच्चों के प्रति स्नेहवान नहीँ होता और बुजुर्गो की प्रतिष्ठा का सम्मान नहीँ करता और वह हममें से नहीं है, जो भलाई का हुक्म नहीं देता और बुराई को नहीं रोकता।”

22. “साफ-सुथरे रहो क्यूंकि इस्लाम साफ-सुथरा मज़हब है।”

23. “तू मेरी दुआओं में शामिल है इस तरह फूलों में होती है खुशबु जिस तरह अल्लाह तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे ज़मीन पर होती है बारिश जिस तरह।”

24. “अरमाँ तमाम उम्र के सीने में दफ़न हैं, हम चलते फिरते लोग मज़ारों से कम नहीं।”

25. “रमदान में ना मिल सके ईद में नज़रें ही मिला लूं हाथ मिलाने से क्या होगा सीधा गले से लगा लूं।”

26. “मजदुर को उसका मेहनताना उसके पसीने के सूखने से पहले दे दें।”

27. “बिना अमल के दुनियाँ को आफत की दीमक खाएगी, हम रोज नमाजें छोड़ेगें तो रोज कयामत आएगी।”

28. “ऐ अल्लाह, मुझे तू अपना प्यार दे, मुझे वर कि मैं उनसे प्यार करूं, जो मुझे प्यारे हैं, मैं वह कम करूं, जिससे तेरा प्यार मिले, तू अपना प्यार मेरे लिए अपने आपसे, परिवार या धन से अधिक प्यारा बना दे।”

29. “एक आदमी ने पूछा, “ऐ अल्लाह के रसूल ! इस्लाम का सर्वोत्कृष्ट अंग कौनसा है ?” उन्होंने कहा, “यह कि तू जिन्हें जानता है और जिन्हें नहीं जानता, उन सबको सलाम कर।”

30. “अगर तुम अल्लाह पर ईमान रखते हो क्योंकि उस पर ईमान रखा ही जाना चाहिए, तो वह तुम्हेँ ठीक वैसे ही देगा, जैसे वह परिन्दों को देता है। वे सुबह खाली और भूके पेट निकलते हैं और शाम को भरपेट होकर लौटते हैं।”

31. “Tumhare behtareen loog, wo hain jo tum me achay, Ikhlaq k malik hain.”

32. “Jab Dua Aur Koshish, Say Baat Na Baney Tou, Faisla Allah Par Chorh Do, Allah Apne Bando’n Ke Barey Main Behtar Fesla Karny Wala Hay”

33. “Quran parho to dil khil jaye, Namaz parho to chehra roshan hojaye, Kitni dilkash hai Rasul-e-Khuda ki Sunnatain, Amal karo to zindagi sanwar jaye”

34. “Golden word’s: Jo musibat apko Allah ki taraf, Mutawajja kar de,wo musibat nahin rehmat he, Aor Jo neymat apko Allah se ghafil kardey, Woh neymat nahin, musibat hay.”

35. “Agar tum muhammad (s,a,w) ki ummat sey ho Tu, Apney kirdaar ko itna buland karo Ke, Doosrey log dekh kar kahain Agar ummat aisi hai tu socho nabi kaisa hoga.!”

36. “3 Aise Naikiyan jin ko karny say qiamat k din arsh k saya milay ga:
1.Andhary main masjid jana
2.Dil na chatey hue bhe wazu kerna
3.kisi bhoky ko khana khilana”

37. “Wo gunah jis ka tumhein ranj ho, Allah k nazdeeq us nayki se behtar hai, Jis se tum main ghuroor paida ho jaye”

38. “Saza Dene Main Der Karo Yahan Tak Ke, Tumhara Ghussa Thanda Ho Jaye”

39. “Hum rozana inbox kholte hain ke, Hamare dost ne konsa sms bheija hai, lekin, Kia hum qozana QURAN kholte hain? ke, ALLAH ne hame konsa messages dia hai sochiya ga zaror!”

40. “Mujhey ibadat main 2 chizain bohut pasand hain, Sard mosam main FAJAR ki NAMAZ Aur Garam mosam main RAMZAN k rozay”

41. “तुम तब तक जन्नत में प्रवेश नहीं कर सकोगे, जब तक ईमान न लाओगे और तब तक तुम्हारा ईमान पूरा नहीं होगा, जब तक तुम परस्पर प्यार न करोगे।”

42. “तमन्ना आपकी सब पूरी हो जायें, हो आपका मुक़द्दर इतना रौशन कि, आमीन कहने से पहले आपकी हर दुआ कबूल हो जाये!”

43. “अल्लाह के नजर में सर्वोत्कृष्ट सहचर वह है, जो अपने सहचरों के लिए सर्वोत्कृष्ट हो और सबसे अच्छा पडोसी वह है, जो अपने पडोसीयों के लिए अच्छा हो।”

44. “चुगली व्यभिचार से भी बुरी है। अल्लाह तब तक चुगलखोर को माफ नहीं करेगा, जब तक उसका साथी (जिसकी उसने बुराई की है) उसे नहीं माफ कर देता।”

45. “अल्लाह अपने धर्म प्रचारकों के प्रति जो प्रेम करता है वह माता के द्वारा शिशु के प्रति किये जाने वाले प्रेम से अधिक है।”

46. “जब तुम बोलो तो सच बोलो, जब वचन दो तो उसे पूरा करो, अपने दायित्व का निर्वाह करो, व्यभिचार न करो, पवित्र बनो बुरे विचार मन में मत लाओ, अपने हाथ को रोको प्रहार करने से तथा उस चीज को ग्रहण करने से जो अवैध और बुरी है।”

47. “सच्चा मोमिन खुशहाली में अल्लाह का शुक्रिया अदा करता है और जब वह मुफलिसी में होता है तो उसके इच्छा के प्रति समर्पित होता है।”

48. “नेक बनने के लिए ऐसी कोशिश करो जैसी कोशिश खूबसूरत दिखने के लिए करते हो !!जो ईमान तुम्हे बिसतर से उठा कर मस्जिद या मुसल्ले तक नही ले जा सके वो ईमान तुम्हे कब्र से उठा कर जन्नत कैसे ले जायेगा?”

49. “सबसे अच्छा मुसलमानी घर वह है, जहां यतीम पलता है और सबसे बुरा घर वह है, जहां यतीम के साथ दुर्व्यवहार किया जाता है। ”

50. “जो ज्ञान का आदर करता है, वह मेरा आदर करता है।”

Related Tags: Islamic Status in Hindi for Whatsapp, Islamic Whatsapp Status in Hindi, Islamic Status for Whatsapp in Hindi, Whatsapp Islamic Status for Facebook in Hindi.

Check Also

Anniversary Status in Hindi

1. “पल-पल तरसे थे जिस पल के लिए, वो पल भी आया कुछ पल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: